मंगलवार, मई 4, 2021

जोतराम की मस्ती छायी – मुकेश शर्मा

जोतराम की मस्ती छायी बेधर के,
डाक ध्वजा तेरी फर फर फरके,


जीतपुरे में बैठा बाबा तू दरबार सजाये,
सबते ऊँची हवा गगन में ध्वजा लहरावे,
पायां के में छाले फूटे पड़ पड़ के,
डाक ध्वजा तेरी……


चड़ा से हुमाया बाबा मेरे तेरे धाम का,
आशिक बनाया बाबा तन्ने तेरे नाम का,
भगता के घर देता पहरा तू अड़ के,
डाक ध्वजा तेरी……


दास दिनेश यादव तेरा से निराला,
सत्यवान गुरूजी मेरा तू ही रखवाला,
गाये जा मुकेश महिमा घड घड के,


भजन – जोतराम की मस्ती छायी
गायक – मुकेश शर्मा
श्रेंणी – जोतराम भजन
डाउनलोड ऑडियो भजन
डाउनलोड भजन लिरिक्स

भगतो अभी SINGLE डाउनलोड लिंक Update नहीं किया गया है, अभी हम सभी भजनो के बोल update कर रहे है,

Leave a Reply